Tue. Jun 18th, 2024

फ्रॉड कॉल्स +92 और +01 से शुरू होने वाले नंबरों से सावधान,कभी भी डेटा चोरी कर खाली कर सकते है आपका एकॉउंट

blank By vijay kumar mishra Aug14,2020

 

फ्रॉड कॉल्स +92 और +01 से शुरू होने वाले नंबरों से सावधान,कभी भी डेटा चोरी कर खाली कर सकते है आपका एकॉउंट

ज्यादातर कॉल्स +92 और +01 से शुरू होने वाले नंबरों से आते है फ्रॉड के मकसद से आने वाले ज्यादातर कॉल्स +92 से शुरू होने वाले नंबरों से आते हैं। ऐसे नंबरों से सामान्य कॉल्स के अलावा यूजर्स को व्हाट्सएप कॉल्स भी किए जा रहे हैं। ऐसे कॉल्स का मकसद यूजर्स की पर्सनल और संवेदनशील सूचना चोरी करना होता है और कॉल करने वाला पीड़ित को बातों में उलझाकर उनके बैंक से संबंधित विवरण चुरा लेता है।

इसके अलावा +01 से शुरू होने वाले नंबरों से भी कई यूजर्स को कॉल्स आए हैं। साइबर दोस्त की ओर से बताया गया है कि ऐसे कॉल्स से सतर्क रहें और अपने बैकिंग डीटेल्स कभी भी कॉल पर किसी के साथ शेयर नही करें। हालांकि इस संबंध में बैंक भी अपने ग्राहकों को संदेश भेजकर हमेशा जागरूक करते रहते हैं।

लकी ड्रॉ या लॉटरी का लालच
कॉल के दौरान लोगों के बैंक अकाउंट नंबर से लेकर डेबिट/ क्रेडिट कार्ड डीटेल्स तक की जानकारी चुरा ली जाती है। इसके लिए उन्हें लॉटरी जीतने या लकी ड्रॉ में नाम आने जैसे लालच दिए जाते हैं और बदले में बैकिंग डीटेल्स यह कहकर मांगते हैं कि जीती हुई रकम आपके अकाउंट में भेजी जाएगी। फ्रॉड करने वाला किसी बड़ी कंपनी का नाम लेकर अपनी सर्विस असली होने का भरोसा पीड़ित को दिलाता है।

बैंक का विवरण किसी के साथ शेयर नहीं करें
कई बार कॉलर की ओर से क्यूआर कोड या फिर बार कोड भेजकर उन्हें स्कैन करने के लिए भी कहा जाता है। गलती से भी ऐसे कोड्स को स्कैन ना करें। ऐसा करने वाले एक से ज्यादा कॉल्स भी अलग-अलग नंबरों से कर सकते हैं। ऐसे कॉल्स से सतर्क रहें और अपने बैंक का विवरण कभी भी कॉल पर किसी के साथ शेयर ना करें।

( लखनऊ से न्यूज़ 17 इंडिया संवाददाता राजन द्विवेदी की रिपोर्ट——)

Related Post