Thu. Jun 13th, 2024

बरसात में बाहर शौच जाने को मजबूर , लक्ष्मीपुर में ओडीएफ की निकली हवा – महराजगंज से विश्वामित्र मिश्र की रिपोर्ट

blank By vijay kumar mishra Jul29,2020

बरसात में बाहर शौच जानें को मजबूर , लक्ष्मीपुर में ओडीएफ की निकली हवाblank
लक्ष्मीपुर क्षेत्र के गांव रजापुर में निकली ओडीएफ की हवा ,मानक के विपरीत बना शौचालय वर्ष भी नहीं चले ; बरसात में बाहर जाने को
महराजगंज जिले के लक्ष्मीपुर क्षेत्र में स्वच्छ भारत अभियान की हवा निकल गई है। एक वर्ष बड़े तामझाम के साथ क्षेत्र में लक्ष्मीपुर को ओडीएफ घोषित किया गया था।blank
लेकिन स्थिति फिर पूर्वत हो गई। लोग खुले में शौच जा रहे हैं। स्वच्छ भारत अभियान की सफलता की अमलीजामा पहनाने को लेकर घर घर शौचालय बनाए गए। लेकिन शौचालय का गुणवत्ता नहीं था। परिणामस्वरूप शौचालय जीर्ण-शीर्ण और जर्जर हो गए हैं। यह स्थिति यहां एक दो पंचायतों की नहीं, बल्कि सभी पंचायतों में समान रुप से देखी जा रही है। blankरजापुर तेनुहाइया ग्राम पंचायत की स्थिति तो सबसे बदतर है। यहां बनाए गए अधिकांश शौचालय जर्जर हो गए हैं। किसी के दरवाजे टूट गए। तो किसी के टंकी धस गए। कई शौचालय कूड़ादान बन गये हैं। तो किसी में पत्तल और लकड़ी रखने का स्टोर रूम बना दिया गया है। कहने को तो यह लक्ष्मीपुर क्षेत्र ओडीएफ घोषित हैं। परंतु यहां रजापुर के ग्रामीण आज भी खुले में शौच जा रहे हैं। एक वर्ष पूर्व यहां बड़े ही ताम-झाम के साथ स्वच्छ भारत अभियान चलाया गया था। केक काटे गए और जश्न मनाया गया था। क्षेत्र के सभी पंचायत को ओडीएफ घोषित किया गया था। परंतु कुछ ही दिन में यहां ओडीएफ टांय-टांय फिस हो गया। सिर्फ इस योजना के बजट को कुछ जनप्रतिनिधियों ने लाभार्थियों को सीधे दिया , जिससे लाभार्थी अपने पास से कुछ रकम लगाकर शौचालय को काएदे से निर्मित करा लिया । जबकि सरकार स्वच्छता के दृष्टिगत घर-घर शौचालय बनवाने का संकल्प लिया परंतु विभागीय कर्मचारियों की मिलीभगत शौचालय का कार्य पुर्ण नहीं हो पाया और पैसे का बंदरबांट हो गया । आज भी लोग बाहर में शौच करने को मजबूर हैं ।

Related Post