Thu. Jun 13th, 2024

महराजगंज – मुख्यमंत्री योगीने बाढ़ प्रभावित लोगों को राहत सामग्री वितरण किया. तत्पश्चात मंच से कहा कि टीम लगाकर जरूरी सुविधा मुहैया कराई जाए..

blank By vijay kumar mishra Sep4,2021

महराजगंज-04/09/2021

महराजगंज – मुख्यमंत्री योगीने बाढ़ प्रभावित लोगों को राहत सामग्री वितरण किया. तत्पश्चात मंच से कहा कि टीम लगाकर जरूरी सुविधा मुहैया कराई जाए..blank blank

News17 india editer in chif vijay kumar mishra

मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ शनिवार को बाढ़ ग्रस्त क्षेत्र का हवाई सर्वेक्षण करते हुये बृजमनगंज क्षेत्र में जी एस नेशनल पब्लिक स्कूल काली नगर पहुचते ही सीधे बाढ़ राहत सामग्री स्टाल की तरफ गए और निरीक्षण करते हुए लोगों में राहत सामग्री बांटी तत्पश्चात मुख्यमंत्री सीधे मंच पर पहुँचे और संबोधित करते हुये कहा कि जिले में जहाँ भी बाढ़ का प्रकोप है सब जगह टीम लगाई जाए । सबको जरूरी सुविधा मुहैया कराई जाए । इसके लिए ग्राम पंचायत स्तर पर नोडल अधिकारी नामित कर जनप्रतिनिधि भी सहयोग कर तीन दिन के अंदर लोगो को राहत पहुँचाये ।

स्वास्थ्य विभाग को भी अलर्ट रहने के लिए कहा कि बाढ़ के चलते बीमारियों फैलने की आशंका है गावो में पहुँच कर लोगो की जरूरी दवा उपलब्ध कराए।अस्पतालों में एंटीवेनम व रैबीज का इंजेक्शन उपलब्ध करा दिया गया है । बाढ़ से मृत्यु पर तत्काल 4 लाख की सहायता राशि भी दिया जाए पशु या कृषि के नुकसान पर भी मुवायजा की भी व्यवस्था की गई है ।

उन्होंने कहा कि बाढ़ से किसी मकान को नुकसान होता है तो 95 हजार की तत्काल सहायता राशि दी जाय व मकान विलीन होने पर प्रधान मंत्री आवास दिया जाय यह भी कहा कि बाढ़ से फसलों के नुकसान होने की सूची बनाकर मुआवजा दिया जाय। पूर्ण रूप से पानी के वहाव से हुए ध्वस्त मकान के लिए प्रधानमंत्री आवास योजना से मकान की व्यवस्था किया जायेगा । जिन गांवों में बिजली कट गई है पेट्रोमैक्स व जनरेटर की व्यवस्था कर सुबिधा देने के लिए जिला प्रशासन को निर्देशित किया ।

बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का जायजा लेने आए सुबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को फरेंदा व सदर तहसील क्षेत्र के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का हवाई सर्वेक्षण किया। इसके बाद बृजमनगंज क्षेत्र के जीएस पब्लिक स्कूल शहाबाद में दस बाढ़ पीड़ित परिवारों से मिले, उनकी समस्याएं सुनी और राहत सामग्री का वितरण कर हर संभव मदद का भरोसा भी दिया।

इस दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि बाढ़ सुरक्षा एवं राहत बचाव कार्य को लेकर उत्तरप्रदेश सरकार बेहद गंभीर हैं। बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में राहत बचाव कार्य युद्ध स्तर संचालित किया जा रहा हैं। इसके साथ ही पीड़ित परिवारों तक बाढ़ राहत सामाग्री भी मुहैया कराई जा रही है।

उन्होंने कहा जिले के सभी बाढ़ प्रभावित 155 गांवों में तीन दिनों के अंदर नोडल अधिकारी की तैनाती सुनिश्चित कर राहत सामाग्री का वितरण कराने का निर्देश भी दिया।

इसके साथ ही बाढ़ पीड़ितों के प्रति अपनी और सरकार की प्रतिबद्धता को प्रकट करते हुए कहा कि हर परिस्थिति में सरकार आपके साथ खड़ी है लेकिन शासन प्रशासन के प्रयासों के बीच आप सभी की सावधानी व सतर्कता भी अहम है।

मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि बाढ़ कम होने के बाद गांवों में संक्रामक बीमारी पांव न पसारे इसके लिए सरकार द्वारा कल से शुरू की जा रही विशेष अभियान का उल्लेख करते हुए कहा कि बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में पेयजल, स्वच्छता व स्वास्थ सेवाओं की सुलभ किया जाए। इसके लिए सभी विभाग मिल कर सामूहिक प्रयास करें। सुरक्षा के दृष्टिगत चप्पे-चप्पे पर पुलिस मुस्तैद रही।

इस दौरान केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री पंकज चौधरी, विधायक बजरंग बहादुर सिंह, प्रेमसागर पटेल, ज्ञानेन्द्र सिंह, जयमंगल कन्नौजिया, अमनमणि त्रिपाठी, जिलाध्यक्ष परदेसी रविदास, डीएम डॉ. उज्जवल कुमार, एसपी प्रदीप गुप्ता, सीडीओ गौरव सोगरवाल आदि मौजूद रहें।

Related Post