Tue. Jun 18th, 2024

लखनऊ – फिरोजाबाद में वायरस बुखार ने तेजी से पसारे पैर, मुख्यमंत्री ने मौके पर जाकर किया निरीक्षण. पांच सदस्यीय जांच टीम पहुंची फिरोजाबाद

blank By vijay kumar mishra Sep2,2021

फिरोजाबाद-01/09/2021

लखनऊ – फिरोजाबाद में वायरस बुखार ने तेजी से पसारे पैर, मुख्यमंत्री ने मौके पर जाकर किया निरीक्षण. पांच सदस्यीय जांच टीम पहुंची फिरोजाबाद

उत्तर प्रदेश के फिरोजाबाद में लगातार हो रही मौतों के बाद स्वास्थ्य विभाग पूरी तरह से सक्रिय हो गया है.वायरस बुखार से काफी लोग इसकी चपेट में आ गए हैं. बीमारी की जांच करने के लिए लखनऊ से 5 सदस्यीय टीम फिरोजाबाद पहुंची है. फिरोजाबाद में फैली बीमारी डेंगू का एक खतरनाक वायरस का रूप है. इसको हेमो रिजिक नाम दिया गया है. हेमो रिजिक से इफेक्ट होने पर बहुत जल्दी बीमार व्यक्ति (बच्चे) के बॉडी की प्लेटलेटस बहुत ही तेजी से गिरता है,और तेजी से बुखार आता है और बीमार व्यक्ति को काफी कमजोरी महशुस होती है, अगर समय रहते बीमार मरीज को हॉस्पिटल में भर्ती नही किया गया तो इस बीमारी से मरीज की जान जाने का खतरा बढ़ जाता है।

वही प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथजी मौके पर जाकर बीमार व्यक्तियों के परिजनों से मिलकर हर संभव मदद का भरोशा दिया की शासन प्रशासन के तरफ से पूरी मदद दी जाएगी। और इस बीमारी पर जल्द काबू पाने के लिए संबंधित स्वास्थ्य विभाग की लोगो को निर्देश दिया कि बीमार व्यक्तियों के खून का सैम्पल जांच कर युद्ध स्तर पर बीमार लोगो का इलाज किया जाए। मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि अगर किसी के द्वारा लापरवाही बरती गई तो उसके खिलाफ कठोर कार्यवाही की जाएगी.

मुख्यमंत्रीजी ने कहा कि प्रदेश के हर व्यक्ति को बेहतर इलाज मिले यही हमारी सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता है। वही 5 सदस्यीय स्वास्थ्य टीम भी अलग-अलग स्थानों पर जाकर लोगों के ब्लड सैंपल ले रही है, उक्त स्वास्थ्य टीम बीमारी से प्रभावित इलाकों में जाकर जगह जगह गंदगी और जलभराव को भी देख रहे हैं.वही स्वास्थ्य टीम द्वारा गंदगी व जलजमाव वाली जगहों पर दवा आदि का छिड़काव करने के लिए टीम के सदस्यों द्वारा स्थानीय प्रशासन को निर्देशित किया गया है। जांच टीम के अनुसार गंदगी व जलभराव वाली जगहों से उन्हें डेंगू, मलेरिया के मच्छर मिल रहे हैं. जिसके काटने से तेजी से संक्रमण फैलता है। टीम के द्वारा सैंपल इकट्ठा कर उसकी जांच के लिए किंग जॉर्ज मेडिकल कॉलेज लखनऊ को भेज रहे हैं ताकि जांच के बाद संबंधित बीमारी की सही जानकारी मिल सके ताकि सही समय पर मानवीय आधार पर बीमार मरीजो का सही उपचार हो सके..

 

blank

blank

blank

 

Related Post